Category Archives: IT solution

this categories in include IT related tutorial

BitCoin क्या है ?, कहा से आया ,इसकी History किस प्रकार की है ! इसमें invest करना कितना फायदेमंद और नुकसान दायक है ?

दोस्तों आज के इस Article में हम Bitcoin के बारे में विस्तार (detail) से जानेंगे इस Article को पढ़ने के बाद आप जान पाएंगे की
1 Bitcoin कहा से आया और किसने बनाया ?
2 Virtual Currency क्या है ?
3 Bitcoin / Virtual Currency /Crypt0Currency का उपयोग कहाँ किया जाता है ?
4 Bitcoin Mining क्या होती है  ?
5 क्या Bitcoin को मान्यता प्राप्त है ?
6 Bitcoin में Investment करना फायदेमंद है या नुकसान दायक ?

Bitcoin कहा से आया और किसने बनाया ?

BitCoin का अविष्कार Computer Engineer सातोशी नकामोतो ने 2008 में किया था और 2009 में Bitcoin Generator Software को Open Source Software के रूप में इसको Publish कर दिया गया था! Bitcoin के अविष्कारक Satoshi Nakamoto एक Unknown Person का नाम है दुनिया में कोई नहीं जनता की यह कोई एक Person है या Group of  Programmer है ! BitCoin एक Virtual Currency है जिसको भौतिगी (Physically)Touch नहीं किया जासकता है सिर्फ़ इसको Computer या Bitcoin Wallet में एक Digit संख्या के रूप में देखा जासकता है  ! bitcoin wallet एक ऐसी Application होती है जिसमे हमारा bitcoin virtually show होता है ! bitcoin wallet को हम Paytm wallet की तरह समझ सकते है !  bitcoin के सबसे छोटे-भाग को इसके Crater के नाम सातोशी पर रखा गया है ! एक Bitcoin में 10 करोड़ सातोशी होते हैं। यानी 0.00000001 btc को एक सातोशी कहा जाता है ! और bitcoin की सबसे बड़ी एक खासियत यह है की इसकी संख्या निर्धारित है, पूरी दुनिया में सिर्फ 21 मिलियन यानि 21,000,000 bitcoin ही रहेंगे यानि सरल भाषा में हम कह सकते है की bitcoin की अर्थव्यवस्था only 21 मिलियन Bitcoin की ही है इसके बाद दुनिया में कोई Bitcoin नहीं बनेगा

what is bitcoin

BitCoin / Virtual Currency /Crypt0Currency का उपयोग कहाँ किया जाता है ?

Bitcoin दुनिया में  इकलौती cryptocurrency नहीं है इसके आवला भी world में लग-भग 600 से 700 तरह की Virtual Currency  है !परन्तु इनमे से जो कुछ ही  popular है और market के चलन में जो है वो 30-35 तरह की Currency ही है ! उनमे से सबसे ज्यादा मूल्य वाली Currency Bitcoin है ! Virtual Currency की अधिक जानकारी है लिए आप इस Link पर Click कर के Wikipedia से देख सकते है की वर्तमान में कितनी तरह की Virtual Currency popular है ! bitcoin एक ऐसी Currency है ! जो पूरी तरह किसी भी सरकार bank या संस्था से सम्बंधित नहीं  है यानि इसको कोई नियंत्रित नहीं कर सकता है ! और तो और विनिमय के समय इसमें लेनदार और देनदार दोनों की पहचान छिपी रहती है ! Bitcoin से भी Physical Currency की तरह Shopping, hotel booking , gold ,Software आदि खरीदा या बेचा जा सकता है !  Bitcoin से लेन-देन करने से सामने वाले Person की Identity Hide रहती है इस कारण इससे गैरकानूनी काम Drags ,Arm ,फिरौती ,जैसे लेन-देन भी Internet की दुनिया में काफी फल-फूल रहे है ! क्रिप्टोकररेन्सी या Bitcoin की कीमत बढ़ने का यही एक प्रमुक कारण है ! जैसे-जैसे internet की दुनिया में यह transaction बढ़ते है वैसे-वैसे इसकी कीमत बढ़ती जाती है ! Bitcoin एक ऐसी Currency है जो रातो-रात बहुध ज्यादा बढ़ और घट सकती है ! इसकी कीमत में 1 घंटे के भीतर अंतर् आता रहता है

Bitcoin Mining क्या होती है !

Bitcoin mining से आशय Bitcoin को Generate करना होता है ! असल में दोस्तों जब कोई दो व्यक्ति Bitcoin में transaction करता है तो उनका एक रजिस्टर या एक Index Maintain होता है  Automatic जो की पूरी दुनिया के सामने internet पर होता है ! की अमुक Bitcoin का transaction किस-किस Particular ID के बीच हुवा है ! और इस रजिस्टर या index को Generate करने का काम Bitcoin miningप्रक्रिया के दौरान Automatic होता जाता है ! यह index या रजिस्टर Bitcoin के Transaction को Verify करते है जिसकी एवज या बदले में उनको Bitcoin का कुछ हिंसा मिल जाता है इसी पुरे Process को Bitcoin Mining कहा जाता है ! हम इसको थोड़ा और सरल समझने का प्रयास करे तो कह सकते है ही जिस तरह से हम कोई भी Real money का Transaction करते है हमारे Debit ,Credit या online banking से तो उसके प्रति जिमेवार हमारा Bank होता है ! bank ही यह Verify करता है की receiver को money मिली है या नहीं और ऐसे में हमारे transaction में कोई भी विवाद की Condition होने पर Bank ही उस Case को Solve करता है और अपने pass सारे Record रखता है की किस खाता धारक द्वारा किसको पैसा लिया या दिया गया है और इन सब काम के बदले Bank हमसे कुछ Service charge लेता है ! जैसा की मेने आपको पहले सुरुवात में ही बताया है कि Bitcoin किसी के भी Control में नहीं है ! World में यह bitcoins miners ही होते है जो Bitcoin mining करके Transaction को Verify करते है और उनको बदले में Service Charge के रूप में Bitcoin का कुछ Part मिलजाता है ! अब यह Bitcoin miner इस काम को करते कैसे है यह समझते है ! असल में होता है यह है की जब कोई 2 bitcoin id कोई Bitcoin का transactionकर रही होती है तो  पुरे World में Bitcoin index या Register में Show होता है !और उस Transaction को Successful बनाने केलिए बहुध ही Complex Mathematics Calculation करनी होती है जिसके लिए एक super Processor Computer और एक Hardware की आवस्य्क्ता होती है जो जल्दी से जल्दी उस Complex Mathematics Calculation को solve करने की जरूरत होती है जो व्यक्ति जितना जल्दी उस Calculation को Solve करता है उतना जल्दी उसको Bitcoin का हिंसा मिलजाता है इसी पुरे Process को Bitcoin Mining कहा जाता है ! पर यह एक ध्यान देने योग्य बात यह है की कहि आप ऐसा नहीं सोच ले की Bitcoins को Generate करना इतना आसान है असल में यह एक बहुध की Expansive Process है क्यों की इसमें बहुध ही ज्यादा Power और energy बर्बाद होती है ! और बहुध सारी energy और Power use करने के बाद भी यह संभव नहीं है की आप ज्यादा Bitcoins generate कर पाए क्योकि हो सकता है की आप की Electricity का बिल जितने के आपने Bitcoins Generate किया उसका 3 से 4 गुना ज्यादा हो सकता है

क्या Bitcoin को मान्यता प्राप्त है

Bitcoins को  कुछ देशो द्वारा मान्यता प्राप्त है  जिन्होंने इसके ऊपर कुछ न कुछ व्यवस्थाएं बना रखी और कुछ देशो द्वारा इसपर कानून भी बना रखा है ! जापान में Bitcoin पर क़ानूनी बिल भी बना हुवा है  जिसमे 1 अप्रैल 2017 को Bitcoin को आधिकारिक रूप से मुद्रा के रूप में मान्यता दी है ! अमेरिका ने Virtual Currency के समन्ध में कानून और दिशा-निर्देश बना रखे है इसके लिए उसने एक सरकारी ख़जाना विभाग की एक साखा(branch) काम करती है जिसका नाम है ,वित्तीय अपराध बंधक नेटवर्क (Financial Crime Enforcement Network ) जो Virtual Currency के समंध में लोगो को दिशा निर्देश देता है और इसी के साथ New York State Department of Financial Services ने Virtual Currency में व्यापर और विनिमय करने वाली संस्थाओ के लिए License जारी करना आरंभ कर दिया गया है  यूरोपीय संग ने भी 1 जुलाई 2016 को एक bitcoin exchange Bitstump को सरकारी लाइसेंस देकर Virtual Currency के विनिमय को हरि झंडी दी है  फिलिप्पीन्स ने भी Bitcoins or Virtual currency को 6 march 2014 को क़ानूनी मान्यता दी है ! और Central Bank of Philippine  द्वारा परिपत्र 499 के तहत virtual Currency में विनिमय किया जाता है  ,सिंगापूर में Inland Revenue Authority of Singapore ( IRAS ) द्वारा Virtual Currency के रूप में दिशा निर्देश जारी किये गए है ! और इसके तहत सिंगापूर में IRAS Virtual Currency या Bitcoin को राजस्व के रूप में भी स्वीकार किया जाता है !

क्या Bitcoin भारत में वेध है ?

यह तो बात हुई World के उन Country की जहाँ Bitcoin को accept किया जाता है और  Transaction किया जाता है या उन्होंने Virtual Currency के लिए कुछ दिशा निर्देश बना रखे है ! पर क्या यह भारत में भी  Bitcoin वेध है ? इसके बारे में हम विस्तार से जानते है! सीधे तोर पर कहा जाये तो अभी तक भारत सरकार और RBI ने Virtual Currency के संबंध में कोई भी दिशा निर्देश नहीं दिए है ! और भारत सरकार और RBI ने तो इसके विनिमय को रोकने का एक असफल प्रयास किया है ! RBI ने Virtual Currency या Bitcoin के संबंध में कहा है की इसमें कोई भी एक Authorize Payment method नहीं है इसलिए इसको Approve नहीं किया जासकता है ! और इसमें नागरिको के साथ किसी भी प्रकार की fraud होने पर सरकार व् वित्तीय संस्थाए उसकी कोई भी Help नहीं कर सकती है ! इसलिए RBI ने इसके संबंध में नागरिको को खा है की वे इससे दूर रहे परन्तु क़ानूनू तोर पर RBI या सरकार के pass अभी तक यानि आज इस लेख केलिए जाने की date ३/५/2018 तक सरकार के पास कोई guide Line अथवा दिशा-निर्देश नहीं है  सरकार लोगों को Bitcoin में पैसा लगाने को लेकर आगाह करती रही थी. लोगों को अलर्ट करते हुए सरकार ने कहा था कि इस वर्चुअल करंसी को कोई आधिकारिक मान्यता नहीं है. वित्त मंत्रालय का कहना था कि ये फर्जी चिटफंड की तरह है और इसे सरकारी संस्था नहीं चलाती है. इसे चलाने का कोई मान्य तरीका भी नहीं है. लोगों के साथ fraud हो सकती है. इस तरह की currency में निवेश पर बहुध ही ज्यादा जोखिम होता है. इससे निवेशकों को अचानक भारी नुकसान हो सकता है और उनकी मेहनत की गाढ़ी कमाई पल भर में डूब सकती है. भारत सरकार के तत्कालीन वित् मंत्री /वित् सेवक , अरुण जेटली ने बिटकॉइन के संबंध में संसद में अपने बजट भाषण में कहा, ‘क्रिप्टो करंसियां वैध नहीं हैं और सरकार इनके प्रयोग को बढ़ावा नहीं देती. हालांकि सरकार ब्लॉकचेन (क्रिप्टो करंसी का समर्थन करने वाली एक डिजिटल तकनीक) के प्रयोग पर विचार करेगी

 

तो  इन सभी बातो से यह स्पस्ट होता है  की यह एक पूर्ण रूपसे स्वतंत्र Currency है इसका किसी भी Bank या Government पर इसका कोई नियंत्रण नहीं है यह Currency आपसी विश्वास  और सहमति के ऊपर चलती है किसी Bitcoin Currency के चलने का मूलकारण यही है की इस Currency पर एक Group विशेस के लोग मिलकर इस Currency में  लेन-देनकरते है और Transaction करते है bitcoin को भारत में किसी भी प्रकार की मान्यता नहीं है ! परन्तु इसको सरकार ने गैरकानूनी भी घोसित नहीं कर रखा है अतः bitcoin में पूरी तरह से लोग अपने risk पर पैसा लगा सकते है इसके इसके पुरे process को समझने के पश्चात

bitcoin को कैसे ख़रीदा जा सकता है ?

Bitcoin को Currency को दो तरीको से Hold किया जासकता है एक तो यह की आप Bitcoin mining करे और दूसरा यह की आप कोई  bitcoin holder organization को पैसे देकर उनसे ख़रीद सकते है और अपने उस bitcoin वॉलेट में bitcoin को रख सकते है ! पर यहाँ आप को बहुध ही सावधान रहने की आवस्य्क्ता होती है क्यों की आप की कम जानकारी के आभाव में आप के password को hake किया जासकता है आप किसी भी प्रकार की धोखे का शिकार हो सकते है और में इसमें अपनी व्यक्तिगत राय दू तो bitcoin ऐसे ही Person ख़रीदने या invest करने चाइये जिसको ज्यादा जोखिम उठाने की हिम्मत हो और जिसको 8-10 लाख जाने पर कोई फरक नहीं पड़ता हो

(नोट – यह लेख किसी भी प्रकार से bitcoin या Virtual Currency को समर्थन नहीं करता है इस लेख का मात्र उदेस्य bitcoin के बारे में जानकारी देना है यदि आप इस लेख से या bitcoin से प्रभावित होकर bitcoin में investment करते है तो इसके जिम्मेदार आप स्वयं है )

धन्यवाद
vishnu sharma

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

Advertisements

Android mobile को Wire-less mouse कैसे बनाएं ?

दोस्तों आज हम सीखते हैं की हमारे Android mobile को wireless mouse और Keyboard की तरह कैसे यूज़ किया जा सकता हैं यह एक बहुद ही सरल तरीका हैं ! Internet पर कही ऐसे Free Software Available है जिनका हम बहतर इस्तमाल कर अपने Computer और Mobile को User friendly बना सकते है ! इनमे से एक है Intel® Remote Keyboard इसका इस्तमाल कर हम अपने computer को 20 – 25 मीटर के Area में Remotely Control कर सकते है  अपने Android मोबाइल से और अपने Mobile को wire less key Bord और Mouse की तरह इस्तमाल कर सकते है  ! तो सबसे पहले आप को इस Intel® Remote Keyboard लिंक पे जाकर ये Software को Download करना है और अपने Mobile के Play Store में जाकर Intel® Remote Keyboard इस Application को Install करना है ! इस पूरी प्रक्रिया में यह आवश्यक है की हमारा Android mobile और Computer एक ही Wi-fi Router से Connected हो अगर आप के पास Wi-fI Router नही है तो आप अपने Mobile के Hotspot  को ऑन कर अपने Computer को इससे Connect कर सकते है

Continue reading

Folder का Color कैसे Change करे

हेल्लो दोस्तों आज हम सीखते है की हमारे Computer में हम Folder का Color केसे Change कर सकते है ! दोस्तों ये एक बहुध ही मजेदार Trick है इसके लिए हमे सिर्फ एक 7 MB के software को Download करने की आवश्यकता होती है जिसका नाम है Folder Maker ये Software Internet पे 30 दिनों के लिए ट्रायल पर फ्री मिलता है जिसको आप इस लिंक से डाउनलोड कर सकते है  folder color और दोस्तों सबसे मजे की बात ये है की इसका यूज़ करना बहुध ही आसान होता है इसके इंस्टालेशन के पश्चात हमे Folder पे Right Click करके Only Color को Select करना होता है Folder color

अगर आप को यह Folder maker Software पसन्द आता है  तो आप इस लिंक पे जाकर इसकी Register  Key भी Download कर सकते है अगर दोस्तप आप को यह पोस्ट मजेदार और अछि लगी हो तो आप मेरे ब्लॉग को फॉलो करे Like करे हिंदी आईटी सलूशन द्वारा जब भी कोई Article Publish किया जायेगा आप को Email मिल जायेगा
धन्यवाद
विष्णु शर्मा

USB Port को कैसे Block करे ?

हेल्लो दोस्तों आज हम सिखते है की हमारे Computer system की USB port को कैसे Block किया जा सकता है ! हम अनेक जगह ऐसा देखते है की कही Computer system की कोई भी पोर्ट काम नही करती है जेसे bank या college में कोई Computer lab में किसी एक System की port को block कर के रखा जाता है ताकि वहा से कोई Data नही चुरा सके या और कोई additional program install नही कर सके इसको  Security के लिए block करके रखा जाता है ! हम भी अपने घर या ऑफिस में computer की USB port को block कर सकते है ! तकि अपना system secure रक सके यह एक बहुद ही सिंपल Process होता है जिसको आप follow कर अपने system का USB port block कर सकते हैusb block

Step 1= सबसे पहले आप को अपने Computer से  Windows + R की press करके Run windows open करनी है ! और उसमे  Type करना है regedit

Step 2=इससे आप की windows system की registry open होती है  यहाँ से आप को computer के Icons को Select करते हुए HKY _LOCAL _MACHINE Options को सेलेक्ट करना है 

usb port block

Step 3=इसके बाद आप को select करना है System > CurrentControlSet >Servies >USBSTORE 

Step4 =USBSTORE से Right window में आप को Start option को select करना है और यह By-default 3 number हो ते है यह आप को 4 कर देना है और OK press कर windows को exit कर देना है  

usb pot block

अगर आप को इस पुरे process में कोई problem आती है तो Comments करे में solve करू गा अगर आप को मेरे द्वारा दीगई जानकारी उपयोगी लगे तो comments करे  like करे share करे meri website को आप follow करे

अधिक सहायता के लिए आप ये Video भी देख सकते है


ध्न्यवाद

writer Vishnu Sharma

Website को कैसे Block करे अपने System के लिए ?

हेल्लो दोस्तों आज हम ये सिखते है की किसी भी Website  को केसे Block  किया जासकता है अपने Computer के लिए बहुद सी बार ऐसा होता है हमारे साथ की हम कोई आपत्ति जनक Website या और कोई website  अपने Computer system के लिए block करना चाहते है तो उसके लिए हम उस browser में जाकर ब्लाक कर सकते है परन्तु कोई दूसरा Browser यूज़ करने पर वो website फिर से Access होने लगती है आज में आप को एक ऐसी Trick बताहूगा जिससे हम किसी भी Website को अपने सिस्टम से permanently block कर सकते है! तो सबसे पहले आप को मेंरे द्वारा दिए गए  पाथ को follow करना है! computer>C:drive>Windows>System32>Drive>etc>hosts यहाँ हम देखते है जब हम hosts इस File को Open करते है तो इस तरह code show होता है इस File को हमे notepad में ओपन करना होता है

 

# Copyright (c) 1993-2009 Microsoft Corp.
#
# This is a sample HOSTS file used by Microsoft TCP/IP for Windows.
#
# This file contains the mappings of IP addresses to host names. Each
# entry should be kept on an individual line. The IP address should
# be placed in the first column followed by the corresponding host 
# The IP address and the host name should be separated by at least one
# space.
#
# Additionally, comments (such as these) may be inserted on individual
# lines or following the machine name denoted by a '#' symbol.
#
# For example:
#
#      102.54.94.97     rhino.acme.com          # source server
#       38.25.63.10     x.acme.com              # x client host
       
 
# localhost name resolution is handled within DNS itself.
#	127.0.0.1       localhost
#	::1             localhost
       
# unchecky_begin
# These rules were added by the Unchecky program in order to block 
0.0.0.0 0.0.0.0 # fix for traceroute and netstat display anomaly
0.0.0.0 tracking.opencandy.com.s3.amazonaws.com
0.0.0.0 media.opencandy.com
0.0.0.0 cdn.opencandy.com
0.0.0.0 tracking.opencandy.com
0.0.0.0 api.opencandy.com
0.0.0.0 api.recommendedsw.com
0.0.0.0 installer.betterinstaller.com
0.0.0.0 installer.filebulldog.com
0.0.0.0 d3oxtn1x3b8d7i.cloudfront.net
0.0.0.0 inno.bisrv.com
0.0.0.0 nsis.bisrv.com
0.0.0.0 cdn.file2desktop.com
0.0.0.0 cdn.goateastcach.us
0.0.0.0 cdn.guttastatdk.us
0.0.0.0 cdn.inskinmedia.com
0.0.0.0 cdn.insta.oibundles2.com
0.0.0.0 cdn.insta.playbryte.com
0.0.0.0 cdn.llogetfastcach.us
0.0.0.0 cdn.montiera.com
0.0.0.0 cdn.msdwnld.com
0.0.0.0 cdn.mypcbackup.com
0.0.0.0 cdn.ppdownload.com
0.0.0.0 cdn.riceateastcach.us
0.0.0.0 cdn.shyapotato.us
0.0.0.0 cdn.solimba.com
0.0.0.0 cdn.tuto4pc.com
0.0.0.0 cdn.appround.biz

जिस website को हमे ब्लाक करना चाहते उस वेबसाइट का नाम LoopBack ip address के साथ write कर देते है three times इस तरह  For-example मुझे Facebook को अपने सिस्टम पर ब्लाक करना है तो इस तरह File में write करुगा

1 127.0.0.1      facebook.com

2-  127.0.0.1     http://www.facebook.com

3-  127.0.0.1    https://facebook.com

websit block

इस तरह हम File में website का नाम लिख देते है और save कर ते है तो हमे इस file को system  सेव नही करने देता है तो हमे इसको Save करने के लिए इसको write की permission General account के लिए on करनी होती है तो इसके लिए आप Screen short में दिखाए गए Process को follow करते है

permission provide करवाने का Path है  Right click on hosts file >go to properties>Security>chose your active account> click on Write permission >ok 

website block

दोस्तों इस File को save करने के बाद आप उस website को अपने system पर कभी Open नही कर सकते है  और अगर आपको फिर से unblock करना है तो इस File में जाकर जो code आप ने लिखा है उसको remove करदे!

दोस्तों आपको अगर इस process में कोई problem आती है तो आप Comments करे में आपकी problems solve करू गा अगर आपको मेरी ये post अछि लगी होतो Like करे comments करे share करे हिंदी आईटी .सलूशन पर आपको निरन्तर अचूक Tips और knowledge मिलता रहे गा

अधिक सहायता के लिए आप ये Video भी देख सकते है


धन्याद
writer- Vishnu Sharma